NASHA MUKTI WEEK SAMAPAN 2018

नशा मुक्ति सप्ताह का समापन गेवरा दीपका में,
गेवरा-दीपका 2जुलाई2018ः प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा राश्ट्रीय चिकित्सक दिवस एवं नषा मुक्ति सप्ताह पर साधना भवन गेवरा दीपका में आयोजित कार्यक्रम में डाॅ. अविनाश तिवारी उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी नेहरू जन्म शताब्दी एस.ई.सी.एल, ने अपने संदेश में सभी को राश्ट्रीय चिकित्सक दिवस पर अपनी शुभकामनायें दीं। डाॅ.एस. के चंदेरिया नेहरू जन्म शताब्दी एस.ई.सी.एल, ने कहा कि नालेज की कमी के कारण लोग नशे से मुक्त नहीं हो पाते और ही वह डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। यहांॅ उसके घर परिवार के लागों की विशेष भूमिका होती है कि मिलकर उस व्यक्ति की समस्या को हल करें। डाॅ. व्ही. एम. के. वर्मा एन.सी.एच दीपका ने कहा कि आज का यह अभियान समाज का एक आवश्यक पहलू है। नशा आज समाज की एक जटिल समस्या है, जिसके कारण अनेक लोगों की मौत हो रही है। व्यक्ति इसके कारण कई प्रकार के कैन्सर का, शिकार हो जाता है। जो जीवन को नारकीय बना देते हैं। डाॅ. एम.के विश्वास ने कहा कि जब नशे से कोई बीमारी होती है तो किसी अच्छे डाॅक्टर की सलाह लेनी चाहिए। ब्रह्माकुमारी ज्योति बहन ने कहा कि राजयोग का अभ्यास सभी प्रकार के नशे की कड़ी बीमारी से छुड़ाने की सामथ्र्य रखता है। हमारे पास ऐसे कई उदाहरण इसके ज्वलंत प्रमाण हैं। डाॅ. के.सी. देबनाथ संचालक अक्षय हास्पिटल कोरबा ने नशा मुक्ति सप्ताह की समीक्षा की प्रस्तुति दी। आपने कहा कि युवा पीढ़ी नशे की समस्या को जन जागृति के माध्यम से कम कर सकती है और उससे होने वाली हानि को भी कम किया जा सकता है। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने कहा नशे से पैसा भी बरबाद होता और अनेक पारिवारिक समस्यायें भी आ जाती हैं। श्रेष्ठ नर से नारायण बनने का नशा करें। मनुष्य से देवता बनने का नशा बिन पैसे खर्च का नशा है। इसके लिये राजयोग का अभ्यास चाहिए। भाई संतोष सार्थी ने अपने नशे के जीवन का अनुभव सुनाते हुए कहा कि वो भी समय था कि लोग मुझे आबारा, गुण्डा, शराबी, नशेड़ी के नाम से पहचानते थे। लेकिन राजयोगी बनने के बाद मैं कम्प्यूटर ट्रेनर के साथ, पढ़ा लिखा एक फोटो स्टूडियो का मालिक हूॅ। आज सभी लोग मुझे दिल से सम्मान देते हैं। इसके लिये मैं ब्रह्माकुमारीज् संस्थान का आभार मानता हूॅं और सदा के लिये उनका ऋणि रहूंगा। कु. आशा ने नृत्य की प्रस्तुति की। बहन रेणु तिवारी प्राचार्या आर.एन. पब्लिक विद्यालय दीपका ने धन्यवाद ज्ञापन किया तथा कु. कंचन बाला मौरे ने मंच संचालन किया। विषय-नशा नाश की जड़ पर आयोजित चित्रकला प्रतिस्पर्धा के परिणाम इस प्रकार हैंः- प्रथमः रिया कुमारी 10वीं स.शि.मं गेवरा। द्वितीयः जयदीप पटेल 9वीं डी.ए.वी विद्यालय गेवरा। तृतीयः जयदीप 9वीं सी.पी.एस.झाबर।
शा. हाई. स्कूल सतरेंगा में आयोजित कार्यक्रम धनीराम जायसवाल प्राचार्य, विरेन्द्र साहू शिक्षक, बहन सरोज, बहन मंजूला यादव, ब्रह्माकुमारी पूजा, ब्रह्माकुमारी सरस्वती ने नशा मुक्ति पर अपने विचार व्यक्त किये।
शा. उ.मा.वि. कोरकोमा में आयोजित कार्यशाला में बहन एस.कच्छप वाल्टर प्राचार्या, भ्राता पी.एल.टण्डन व्याख्याता, बहन डिम्पल रावल व्याख्याता पं. भ्राता के.वी.एस.एन.प्रसाद, भ्राता खगेष्वर सोनी ग्रामीण,ब्रह्माकुमारी वेदान्ती, कु. काजल षर्मा 12वीं ने भाग लिया।
शा.उ.मा.वि तिलकेजा में आयोजित नशा मुक्ति कार्यक्रम भ्राता एम.आर. श्रीवास प्राचार्य, भ्राता के.के.दुबे, भ्राता तिवारी जी, भ्राता महावीर राजपूत, ब्रह्माकुमारी रीतांजली ने अपने विचार नशा मुक्ति पर व्यक्त किये।
राजयोग केन्द्र जमनीपाली के कृश होम्योपेथिक क्लीनिक कोरबा द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया गया।

NASHA MUKTI WEEK 2018 AND DOCTORS WEEK

डाक्टर्स दिवस पर सम्मान एवं स्नेह मिलन का आयोजन
1 जुलाई 2018ः प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा चिकित्सक सम्मान एवं स्नेह मिलन विष्व सद्भावना भवन में पष्चिम बंगाल के ़िद्वतीय मुख्यमंत्री डाॅ. विधान चन्द्र राय के प्रतिमा पर पुष्प माला अर्पित कर दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर डाॅ. ए.जी.नंद, डाॅ. निर्मला नंद, डाॅ. यू. एस जायसवाल, डाॅ. एस.एस. सब्बरवाल, डाॅ. बी. पी. सिन्हा, डाॅ. के.सी.देबनाथ, डाॅ.डी.के.श्रीवास्तव एवं डाॅ. संजय अग्रवाल, का सम्मान कर ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन जी ने उपहार भेंट की। संसदीय सचिव के प्रतिनिधि भ्राता नरेन्द्र देवांगन ने सभी को सम्मानीय लखन देवांगन जी का संदेष सुनाते हुए षुभकामनायें दी। डाॅक्टर डी.के श्रीवास्तव ने अपने अनुभव को व्यक्त करते हुए कहा कि ईष्वर में विश्वास और उनकी साकाश से कई मरीजों के जख्म जल्दी भर जाते हैं। डाॅ. नागेन्द्र शर्मा ने कहा कि मैं उस ईश्वर का धन्यवाद देना चाहंूगा जिसने मुझे चिकित्सा व्यवसाय से जोड़ कर जन मानस की सेवा करने का अवसर दिया। आपने कविता पाठ करके जन समूह को भाव विभोर कर दिया। डाॅ. के.सी.देबनाथ ने कहा कि राजयोग अंतर्मन की अश्ठ षक्तियों को जागृत कर देता है और आत्मा के सात गुणों को जीवन्त कर देता है। जिससे आत्मा सुख षांति और शक्ति का अनुभव करती है। डाॅ. ए.जी.नंद ने कहा कि मानवता को कमाना, पैसा तो स्वतः आयेगा यह मंत्र मुझे मेरे पिता जी से मिला, आज भी मेरा ये प्रयास रहता है कि लोग मुझे अपने परिवार का सदस्य बनाकर मेरी बात को स्वीकार करें। रोगी में अज्ञानता होती है जो वह स्वयं की तकलीफ के कारणों को नहीं जानता। इसलिये डाॅक्टरर्स को विनम्रता पूर्वक स्नेह के साथ मित्रवत व्यवहार करना चाहिए। डाॅ. यू. एस. जायसवाल ने कहा कि हम लोगों ने एक गांव को गोद लिया हुआ है, वहां जाकर सप्ताह में दो दिन निःषुल्क ईलाज कर, दवा देते हैं। डाॅ. एस.एस. सब्बरवाल ने डाॅ. विधान चन्द्र राय के जीवन वृत्त पर प्रकाष डाला। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने कहा कि डाॅक्टर को लोग भगवान का स्वरूप मानते हैं। वे शरीर का इलाज तो करते ही हैं लेकिन उन्हें राजयोगी बन कर मन के ईलाज की कला भी सीखनी चाहिए। डाॅ. बी.पी.सिन्हा ने आयुर्वेद की चिकित्सा पर प्रकाष डाला। ब्रह्माकुमारी लीना बहन ने राजयोग से गहन षांति की अनुभूति कराई। डाॅ. संजय अग्रवाल ने धन्यवाद ज्ञापन किया और भ्राता शेखर राम ने मंच संचालन किया।
ब्रह्माकुमारीज, साधना भवन गेवरा दीपका मे आयोजित कार्यक्रम में डाॅ.व्ही एम के वर्मा, डाॅ.एस. के चंदेरिया नेहरू जन्म षताब्दी एस.ई.सी.एल, तथा डाॅ. एम.के विश्वास, डाॅ.के.सी. देबनाथ का सम्मान पुष्प एवं उपहार देकर ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने किया।

NASHA MUKTI WEEK 2018 AND KABIR JAYANTI

DB (1)

संत कबीरदास प्राकट्य दिवस पर गोष्ठी
बाल्को 29.06.2018-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वावधान में रामलीला मैदान बाल्को में कबीर प्राकट्य दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में संत दास राम पड़वार के साथ उपस्थित लोगों ने संत कबीरदास जी की आरती की। संत दास राम पड़वार जी अपने उद्बोधन में कहा कि संत गुरू सिरोमणि कबीर साहेब जी का मानव जगत में अवतरित होना और अपने पूरे काल समय तक उनके द्वारा दिये गये संदेशों के लिये मैं कहना चाहूंगा कि मानव संस्कृति के आज तक के इतिहास में कबीर साहेब जैसा अभूतपूर्व व्यक्तित्व दूसरा कोई महापुरूष अवतरित नहीं हुआ। भ्राता शैलेन्द्र शर्मा वरिष्ठ शिक्षक आदर्श उ.मा.वि.बाल्को ने कहा कि मानव जगत में सम्पूर्ण विशमताओं को मिटाकर एक सामंजस्य स्थापित करने, संत कबीर एक पीर के रूप में आये और ढाई आखर प्रेम का पाठ सबको पढ़ाया। भ्राता पी.डी. महंत ने कहा कि कबीर जी में जैसा देखा वैसा कहने की हिम्मत थी। भ्राता शेखर राम अतिरिक्त शासकीय अधिवक्ता ने कहा कि संत कबीर जी ने एक निराकार राम की उपासना पर बल दिया और संसार में छाये अंधविश्वास और कर्मकाण्ड को छोड़ने के लिये कहा।
नषा मुक्ति सप्ताह के अंतर्गत लगाई गई चित्र प्रदर्षनी से डाॅ. के.सी. देबनाथ एवं अनीश षर्मा के द्वारा लोगों में नशा न करने के लिये जन जागृति लाई गई। ब्रह्माकुमारी विद्या बहन ने सभी को नशा मुक्त होने के लिये राजयोग प्रशिक्षण के लिये सेक्टर 6 बाल्को में आने के लिये आमंत्रित किया।

NASHA MUKTI WEEK 2018 – CHURI, CHUYA

DJ (1)

नशा मुक्ति सप्ताह में अनेकानेक कार्यक्रम का आयोजन
कोरबा 26.06.2018-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वावधान में विष्व सद्भावना भवन कोरबा में मातेष्वरी जगदम्बा के स्मृति दिवस पर बहन उर्मिला गुप्ता मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी कोरबा, भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबंधक एन.टी.पी.सी, अविनाष तिवारी मुख्य चिकित्साधिकारी एन.सी.एच, एस.ई.सी.एल. कोरबा, डाॅ. नागेन्द्र षर्मा, डाॅ. के.सी. देबनाथ, भा्रता बी.पी.अग्रवाल वरि. प्रबंधक एवं अनेक गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में नशा मुक्ति सप्ताह का शुभारम्भ दीप प्रज्जवलन करके किया गया। नशा मुक्ति सप्ताह के अंतर्गत विषय नशा नाश की जड़ पर चित्रकला प्रतिस्पर्धा, परिचर्चा एवं अनेकानेक जन जागृति कार्यक्रम कई स्थानों पर आयोजित किये जायेगें।
26 जून विश्व नशा निवारण दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर छुर्री में आयोजित कार्यक्रम में भ्राता प्रमोद तिवारी प्राचार्य ने बड़े ही प्रेरणादायी षब्दों में कहा कि अंचल को नषा मुक्त बनाने के लिये अनेकानेक कार्यक्रम अनेक संस्थानों से मिल कर आयोजित किये जायेंगें जिसमें रैलियां आदि निकाली जायेगी। ब्रह्माकुमारी पूजा ने कहा कि नषा तन, मन, धन, संबधों आदि सभी को नष्ट कर देता है। ब्रह््माकुमारी जानकी ने कहा कि नशा एक सामाजिक बुराई है। नशे की लत से छुटकारा पाने के लिये हमें स्वयं ही प्रयास करना होगा। डाॅ. के.सी.देबनाथ एम.डी. ने नषे से होने वाली अनेकानेक बीमारियों पर प्रकाश डाला। नषे से मस्तिश्क की कार्यप्रणाली का अनियंत्रण होना, पेन्क्रीअस को हानि, यकृत को हानि -सिरासिस, अमासय में छाले, रक्तचाप का बढ़ना आदि कई बीमारियों का व्यक्ति षिकार हो जाता है।
शा.पूर्व मा. वि. चुईया में विद्याथियों ने समूह बनाकर घर घर जाकर अंचल को नषा मुक्त बनाने का संकल्प लिया। भ्राता टी.आर मेहरा प्रधान पाठक ने कहा कि संगठित रूप से बच्चों की यह अपील निष्चित ही लोगों के लिये पे्ररणादायी होगी। क्योंकि बच्चों से सभी का बहुत प्यार होता है। बाबूलाल कंवर ग्रामीण, सरपंच परिवार ने कहा कि बच्चों का यह समूह अकेला नहीं है, हम सभी भी इनके साथ हैं। नषे के कारण बढ़ती बुराई का सामना करने के लिये हम सबको आगे आना होगा। ब्रह्माकुमारी सुनीता ने कहा कि जब जीवन को श्रेश्ठ बनाने का नारायणी नषा होगा तो सभी नषे स्वतः ही विदाई ले लेंगें। आपने सभी को राजयोग का अभ्यास कराया। बहन प्रेरणा राही शिक्षिका ने कार्यक्रम का संचालन किया। बच्चों के द्वारा नुक्कड़ नाटक एवं अनेक प्रकार की प्रस्तुति दी गई।

बच्चों का नषा मुक्ति समूहः
बालक-शिवनाथ, यशवंत, पुरंजन, हरीश, आकाश, गोकरण, भवानी।
बालिका-मान कंुवर, सरोजनी, मेंहन्दी, निशु, शीतल, मधु, प्रियंका।

MATESHWARY JAGDAMBA SMRUTI DIVAS 2018

MM (1)

24 जून पुण्य स्मृति दिवस
प्रथम प्रशासिका मातेश्वरी जगदम्बा को श्रद्धा सुमन अर्पित
कोरबाः24.06.2018- प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईष्वरीय विष्व विद्यालय की प्रथम प्रशासिका मातेश्वरी जगदम्बा की पुण्य स्मृति दिवस को विष्व सद्भावना भवन के सभागार कोरबा में मनाया गया। बहन हिमांषु जैन द्वितीय अपर एवं सत्र न्यायधीश, बहन उर्मिला गुप्ता मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी कोरबा, डाॅ. भ्राता जे पी ़िद्ववेदी महाप्रबधक एस.ई.सी.एल कोरबा, भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबंधक एन.टी.पी.सी, अविनाश तिवारी मुख्य चिकित्साधिकारी एन.सी.एच, एस.ई.सी.एल. कोरबा, एवं अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये। बहन उर्मिला गुप्ता मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी कोरबा ने कहा कि मानव सेवा ही ईश्वरीय सेवा है। हर प्राणी के प्रति दया भाव होना चाहिए। आपने कहा कि प्रकृति का संतुलन बनाने में वृक्षों की एक बड़ी भूमिका है, जोकि जल का संचय करते हैं। सभी आज के दिन वृक्ष लगाने का संकल्प लें और उसका संरक्षण करें। इसके साथ उपभोक्तावादी नीति को न अपना कर अध्यात्म की राह पर चल कर, अपनी आवश्यकतओं को सीमित करें तभी आने वाली पीढ़ी को स्वस्थ पर्यावरण दे सकेगें। यही मातेश्वरी जगदम्बा को सच्ची श्रद्धाजलि होगी। भ्राता जे पी ़िद्ववेदी महाप्रबधक एस.ई.सी.एल कोरबा ने कहा यह सभी को मालूम है कि देवी शक्ति उपस्थित है, बिना उसके कुछ भी नहीं चल सकता। कोई भी शक्ति चलायमान है, तो उसे शक्ति की आवश्यकता होती है। डाॅ. नागेन्द्र शर्मा ने कहा कि स्मृति दिवस हम सबका मनाते है, लेकिन आज हम मातेष्वरी जी की पुण्य स्मृति दिवस मना रहें हैं, जो ज्ञान, शक्ति और आर्शीवाद आज भी हम सभी को प्रदान कर रहीं हैं। भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबंधक एन.टी.पी.सी ने कहा कि 1937 में परमात्मा ने प्रजापिता ब्रह्मा दादा लेखराज को यह प्रेरणा दी कि विश्व परिवर्तन का कार्य नारी शक्ति के द्वारा ही आगे बढ़ेगा और आज ब्रह्माकुमारी संस्था की मातायें बहनें, 140 देषों में समर्पित भाव से शांति दूत बनकर, मानव उत्थान का कार्य कर रहीं हैं। भ्राता बी.पी.अग्रवाल वरि. प्रब्रधक एन.टी.पी.सी ने कहा कि मातेश्वरी के आशीष वचन और पद चिन्हों पर चलें तो यही मातेष्वरी के लिये सच्ची श्रद्धान्जली होगी। डाॅ. के.सी देबनाथ, संचालक अक्षय हास्पिटल ने धन्यवाद ज्ञापन किया। भ्राता शेखर राम ने मंच का संचालन किया। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने सभी को प्यार से ब्रह्मा भोजन स्वीकार कराया। बहन लवलीन, बहन चम्पा और भ्राता शांतिलाल ने भजन की प्रस्तुति दी।
मातेश्वरी जगदम्बा की विशेषतायेंः-
1.मातेश्वरी शक्ति स्वरूपा बन सभी की पालना करती थीं।
2. वे बहुत निर्भीक और दूरदर्शी थीं।
3.वे सभी को मातृ प्रेम की भासना देती थीं।
4. वे आयु में छोटी थीं लेकिन वे सभी को सम्मान और आगे बढ़ने का समान अवसर देती थीं।
5. वे हर ईश्वरीय आज्ञा को सद्गुरू का आदेश मानती थीं।
6. उनमें संगठन को चलाने की शक्ति थी, उनमें सबको साथ लेकर चलने की कुशल कला थी।
7. वे कुशाग्र बुद्धि और मिलनसार थीं।

SAHAJ RAJYOGA WEEK 2018 BALCO, GEVERA, KATGHIRA, POWER GRID, IT-COLLEGE

YK (1)

योग सप्ताह में अनेकानेक कार्यक्रम सम्पन्न
21 जून विश्व योग दिवस के अवसर पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वावधान में सहज राजयोग सप्ताह का समापन सत्र विश्व सद्भावना भवन कोरबा में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर बहन रेणु अग्रवाल महापौर नगर पालिक निगम कोरबा ने कहा कि योग को अपनी दिनचर्या का एक अंग बना लेना चाहिए। योग से तन और मन स्वस्थ रहता है। योग से ही दिल और दिमाग में स्फूर्ति आती है। बहन श्रद्धा मैथ्यू उप संचालक पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग, कोरबा ने कहा ब्रह्माकुमारीज के द्वारा सिखलाई जा रही राजयोग की शिक्षा का लाभ सबको लेना चाहिये। यह संस्था नशा मुक्ति अभियान और जन जागृति लाने में सदा ही षासन के साथ कार्य करने में अपना सहयोग करती है। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने अपनी शुभकामनायें दीं। भ्राता संतोष यादव ने अपने राजयोग से हुई प्राप्ति पर प्रकाष डाला।
बड़ा शिव मंदिर गेवरा दीपका में आयोजित कार्यक्रम में लक्ष्मण चन्द्रा प्रदेश सचिव भारतीय मजदूर संगठन तथा डाॅ. के.सी देबनाथ एम.डी. ने अपनी षुभकामनायेंदी, ब्रहृमाकुमारी ज्योति बहन ने राजयोग का अभ्यास कराया।
राजयोग केन्द्र बाल्को के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में, हितानन्द अग्रवाल पार्षद नगर पालिक निगम कोरबा, रंजीत गौड़, कार्यवाहक अध्यक्ष बाल्को एल्युमिनियम सहकर्मी संघ बाल्को, भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबंधक एन.टी.पी.सी., भ्राता कमल कर्माकर पूर्व महाप्रबंधक बाल्को ने सभी को स्वस्थ रहने की अपनी षुभकामनायें व्यक्त की। भ्राता शैलेन्द्र शर्मा ने योग प्राणायाम का अभ्यास कराया। ब्रह्माकुमारी विद्या ने कार्यक्रम संयोजन में अपनी भूमिका निभाई।
ब्रह्माकुमारीज् पाठशाला मेला ग्राउण्ड कटघोरा में आयोजित कार्यक्रम में भ्राता संजय अग्रवाल पार्षद वार्ड क्र्र. 9 नगर पालिका परिषद कटघोरा ने अपनी शुभकामनायें व्यक्त किया। ब्रह्माकुमारी जानकी बहन ने सहज राजयोग का अभ्यास कराया। भ्राता शेखर राम अतिरिक्त शासकीय अभिभाशक एवं अतिरिक्त लोक अभियोजक कटघोरा ने अपनी षुभकामनायें व्यक्त की।
आई टी कालेज में दो दिवसीय योग शिविर का आयोजन ब्रह्माकुमारी विद्या बहन तथा ब्रह्माकुमारी भारती बहन के सानिध्य में सम्पन्न हुआ। जे.एल सोनकर प्रभारी प्राचार्य एवं महाविद्यालय परिवार ने अपनी शुभकामनायें व्यक्त की। पावर ग्रिड कारपोरेशन आफ इण्डिया भैंसमा कोरबा में आयोजित योग कार्यक्रम में भ्राता एस.के.कमिला उप महाप्रबंधक ने योग दिवस पर अपनी शुभकामनायें व्यक्त की।

SAHAJ RAJYOGA WEEK 2018 KORBA, JAMNIPALI, RAJGAMAR, CISF, SARAGBUNDIA

YK (1)

योग सप्ताह में, सहज राजयोग अभ्यास की लहर
21 जून विश्व योग दिवस के अवसर पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वाधान में सहज राजयोग सप्ताह का आयोजन दिनांक 15 जून से 21 जून 2018 तक किया गया है। राजयोग केन्द्र जमनीपाली में, योग सप्ताह का षुभारम्भ दीप प्रज्जवलन कर गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में किया गया। भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबंधक एन.टी.पी.सी. डाॅ. के.सी देबनाथ, कमल कर्माकर पूर्व महाप्रबंधक बाल्को, बी.पी. अग्रवाल वरिश्ठ प्रबंधक, रमेष कुमार त्रिपाठी जूनियर आफीसर एकाउन्टस् के साथ एक बड़े जन समुदाय ने योग का अभ्यास किया।
सी. आई. एस. एफ दर्री में आयोजित योग कार्यक्रम में अधिकारी तथा सुरक्षा बल सैनिकों ने योग का अभ्यास किया तथायोग दिवस पर सभी को अपनी शुभकामनायें दीं। भा्रता शैलेन्द्र शर्मा शिक्षक आदर्श विद्या मंदिर बाल्को, कमलेश तथा ब्रह्माकुमारी भारती बहन ने योग अभ्यास कराया।
आफीसर्स क्लब रजगामार में आयोजित योग कार्यक्रम में अपनी षुभकामनायें व्यक्त करते हुए भ्राता जगदीश दास सब एरिया मैनेजर एस.ई.सी.एल ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम सभी के लिये बहुत ही लाभप्रद हैं। आगे भी इस क्षेत्र में मैं सभी के लिये योग शिविर का आयोजन करेगें। डाॅ. के. सी. देबनाथ संचालक अक्षय हास्पिटल कोरबा ने कहा कि मन बुद्धि को एकाग्र करने का मार्ग है, सहज राजयोग। मन से एक परमात्मा को याद करना है। उनकी की ही महिमा के गीत गाना है। एक के ही अंत में जाना ही एकान्तवासी बनना है। एक परमात्मा में ही सारे संसार की सर्व प्राप्तियों की अनुभूति हो।
ब्रह्माकुमारीज् रूहानी हास्पिटल सरगबुंदिया में आयोजित योग कार्यक्रम में भ्राता पुरूषोत्तम पटेल प्राचार्य शा. उ.मा.वि.तुमान ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रम होने से बच्चों को प्रेरणा मिलती है और लोगों में जन जागृति भी आती है। भ्राता षेखर राम ने मंच का संचालन किया तथा भ्राता महावीर राजपूत ने धन्यवाद ज्ञापन किया।
अशोक वाटिका टी.पी. नगर कोरबा में आयोजित योग कार्यक्रम में बहन रश्मि ने शर्मा ने योग का अभ्यास कराया। ब्रह्माकुमारी लीना बहन ने कहा कि श्रीमद् भागवद् गीता ज्ञान के अनुसार अध्याय 12 के, ष्लोक 11 में वर्णन है कि निरन्तर याद का अभ्यास यदि कठिन लगता है, तो मेरे लिये कर्म कर। यदि यह भी नहीं कर सकता तो कर्मों के फल की कामना मत कर, इससे तुझे तुरन्त ही शांति प्राप्त होगी। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने राजयोग का अभ्यास कराते हुए कहा कि योग साधना से मन की एकाग्रता आती है और एकाग्रता से अनेक सिद्धियां प्राप्त होती हैं। इसकी सहज विधि है सहज राजयोग।

ENVIRONMENT COMPAIGN SAMPAN SARAGBUNDIA 2018

CKJ (1)

10 दिवसीय पर्यावरण जन-जागृति अभियान सम्पन्न
कोरबा-05.06.2018-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के सानिध्य में 10 दिवसीय पर्यावरण जन-जागृति अभियान का समापन सत्र आयोजन विश्व सद्भावना भवन में किया गया। भ्राता आर.पी.सिन्दे क्षेत्रीय पर्यावरण अधिकारी छ.ग.पर्यावरण संरक्षण मण्डल कोरबा ने जन समूह को प्लास्टिक बैग का उपयोग ना करने की अपील दी। बहन डाॅ. तारा शर्मा प्राचार्या शा.मिनीमाता कन्या महाविद्यालय ने कहा कि कहीं न कहीं आमूल चूल परिवर्तन की आवश्यकता है। बहन डाॅ. चन्द्रावती नागेश्वर ने कहा कि आज हमारे जीवन का, प्लास्टिक एक अंग बन गया है। लेकिन इसके द्वारा होने वाले प्रदूषण को महसूस कर इसे रोकना होगा। अपनी आदतों में कहीं न कहीं परिवर्तन लाने की आवश्यकता है। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन संचालिका कोरबा सेवाकेन्द्र ने कहा कि आज के दिन यह सभी संकल्प लें कि बाजार जाने पर, साथ में कपड़े की थैली अवश्य लेकर जायेंगें। आज अपने मन के विचारों से वातावरण को शुद्ध बनाने की आवयकता है। कु. कंचन बाला मौरे ने मंच संचालन किया।
रिक्रियेशन क्लब रजगामार में आयोजित परिचर्चा में भ्राता जगदीष दाष सब एरिया मैंनेजर रजगामार, भ्राता अलखनारायण षर्मा प्राचार्य सरस्वती शिशु मंदिर रजगामार, चन्द्र प्रकाश अग्रवाल पूर्व महामंत्री भा.जा.पा.ग्रामीण, राम विलास पाल भा.म.संघ, संतोश साहू शिक्षक, बलराम राठौर साहित्यकार, एस.आर.निराला ने अपने विचार व्यक्त किये। भ्राता बी.के. मिश्रा सुरक्षा अधिकारी ने मंच संचालन तथा भ्राता ए.के.वर्मा काॅलिंग मैंनेजर ने धन्यवाद ज्ञापन किया। ब्रह्माकुमारी वेदान्ती बहन ने राजयोग का अभ्यास कराया।
भारत भवन उरगा में आयोजित परिचर्चा में सम्मेलाल जगत सरपंच ने अपनी शुभकामनायें दीं। भ्राता आत्माराम पन्ना जिला पंचायत सदस्य, जनार्दन सिंह पूर्व सरपंच, जवाहर लाल टण्डन, आयुर्वेद चिकित्सयालय ने अपने विचार व्यक्त किये। चरण सिंह कंवर 65 वर्शीय को पौधों से इतना प्यार है कि वे पौधे लगाकर उनकी पालना करते हैं। उन्होंने आज तक लगभग हजार पौधे लगा चुके हैं, गांव वाले उन्हें प्यार से हजाराह चाचा के नाम से पुकारते हैं। ब्रह्माकुमारी गणेशी बहन ने अंचल को प्लास्टि मुक्त बनाने पर प्रकाश डाला।
सरगबुंदिया में आयोजित परिचर्चा में भ्राता पी.पटेल प्राचार्य षा.उ.मा.वि.तुमान, मनोज कुमार गुप्ता, एस.आर.पैकरा, विजय कुमार सोनी कु.मानसी शर्मा, अंकिता पटेल, देवेश पटेल, ने अपने विचार व्यक्त किये। कु. श्याम कंवर ने नारा वाचन कर संदेश दिया। कु. तुलिका पटवा एवं साथियों ने नुकक्ड़ नाटक की प्रस्तुति दी। मंच का संचालन उदयनाथ साहू व्याख्याता तथा डाॅ. के.सी. देबनाथ ने धन्यवाद ज्ञापन किया। चित्रकला प्रतिस्पर्धा के परिणाम इस प्रकार हैं। प्राथमिक स्तरः प्रथम-अरमान सिंह, द्वितीय-वर्धमान, तृतीय- तेजेष श्रीवास। माध्यमिक स्तरः प्रथम-निशांत उरांव, द्वितीय-कुलदीप कुमार, तृतीय- राहुल कुमार। हाइ/हायर सेकेण्ड्री स्तरः प्रथम-खिलावन सिंह, द्वितीय-सुधा कंवर, तृतीय-दीपक सिंह। प्रतिभागियों को पारितोशिक वितरण किया गया। पौधारोपण कर, पौधों का वितरण भी किया गया। ब्रह्माकुमारी रीतांजलि बहन नैतिक मूल्यों पर प्रकाश डाला।

ENVIRONMENT COMPAIGN BALCO 2018 AND CHILDREN CAMP

EB (1)

10 दिवसीय पर्यावरण जन-जागृति अभियान बाल्को में,
बाल्कोः02.06.2018-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के सानिध्य में 10 दिवसीय पर्यावरण जन-जागृति अभियान के अंतर्गत पर्यावरण विभाग बाल्को के संयुक्त तत्वाधान में राजयोग केन्द्र बाल्को में अनेकानेक कार्यक्रम आयोजित किये गये। ं चित्रकला प्रतिस्पर्धा, पर्यावरण प्रनोत्तरी, परिचर्चा, पौधारोपण, आडियो वीडियो द्वारा जन जागृति लाई गई। भ्राता पी.एस.हरी उप महाप्रबंधक एच.एस.ई बाल्को ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप बच्चे आज से संकल्प लें कि प्लास्टिक का उपयोग कम करेगें तथा दूसरों को भी प्रेरणा देगें। प्लास्टिक को सही स्थान पर डिस्पोज करेंगें। प्लास्टिक को जलायेगें नहीं। आपने प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईष्वरीय विष्व विद्यालय को इस तरह से कार्यक्रम करने के साथ बाल व्यक्तित्व विकास शिविर आयोजित करने की सराहना की। डाॅ. के सी. देबनाथ एम.डी संचालक अक्षय हास्पिटल ने कहा कि इस अभियान से मैंने यह पाठ पढ़ लिया है कि अपने दैनिक दिनचर्या में प्लास्टिक का कम उपयोग करना है। मैंने सब्जी लेने की बांस की टोकरी लेकर कार में रख ली है और अब उसी का उपयोग करता हूॅं। भ्राता प्रिय रंजन त्रिवेदी सहायक प्रबंधक ने उपिस्थित बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए प्रष्नोत्तरी का आयोजन किया। प्रष्नोत्तरी में अभय, मनीश, अभिषेक, इप्श्तिा तथा जुनेरा ने पारितोशक जीते। भ्राता विजय ठाकुर एवं भ्राता षिव कुमार सिंह ठाकुर वरिश्ठ सहायक बाल्को ने पर्यावरण विभाग की ओर से कपड़े के थैले वितरित करते हुए प्लास्टिक को कम उपयोग करने की हिदायत दी। बहन लता चन्द्रा प्राचार्या षिक्षा निकेतन परसाभाटा ने कहा जब आप प्लास्टिक इधर उधर फेंक देते हैं और जानवर उन्हें खा लेता है, जो कि उनकी मौत का कारण बनता है। इसका पाप प्लास्टिक फैंकने वाले पर भी लगता है। भ्राता कमल कर्माकर सेवानिवृत महाप्रबंधक बाल्को ने कहा कि आप बच्चों की मुस्कान एक खिलते हुए पौधे के समान है। आप सबके प्रयास सराहनीय हैं। आपने बच्चों को अंचल प्लास्टिक प्रदूशण मुक्त बनाने की शपथ दिलाई। ब्रह्माकुमारी विद्या बहन ने मन की एकाग्रता के लिये राजयोग का अभ्यास कराया। अमृतलाल निषाद ने अपने साथियों को अभियान में सहभागिता निभाने की प्रेरणा दी। पौधा रौपण भी किया। आयोजित चित्रकला प्रतिस्पर्धा के परिणाम इस प्रकार हैं। प्राथमिक स्तरः प्रथम- प्रियांस साहू के.जी.1। द्वितीय-साक्षी सिंह 5वीं, आर्या मित्तल 2री तृतीय-आकृति चन्द्रा 3री। माध्यमिक स्तरः प्रथम-इप्श्तिा दास 8वीं । द्वितीय-संजीव पटेल 8वीं । तृतीय-आशी शर्मा 6वीं एवं नेहा देबनाथ 6वीं। हाइ स्कूल स्तरः प्रथम-सौरभ यादव 10वीं। द्वितीयः रश्मि प्रजापति 10वीं। तृतीयःमंजू पटेल 9वीं।

राजयोग केन्द्र पाली में आयोजित परिचर्चा में मुन्नी दास सेवानिवृत शिक्षिका, बहन सोनू जायसवाल, ब्रह्माकुमारी ज्योति बहन ने अपने विचार व्यक्त किये। आयोजित चित्रकला प्रतिस्पर्धा के परिणाम इस प्रकार हैंः प्रथम- उदय पाचवीं। द्वितीय-शशि पांचवीं एवं मानसी सातवीं तृतीय-मुस्कान चैथी।
रूहानी औषधालय बांगों में आयोजित परिचर्चा में भ्राता नागवंशी, जितेन्द्र सिंह, ब्रह्माकुमारी जानकी बहन ने अपने विचार व्यक्त किये। आयोजित चित्रकला प्रतिस्पर्धा के परिणाम इस प्रकार हैं। प्रथमः रूद्््र प्रताप सिंह 7वीं, द्वितीयःनीतू सिंह 8वीं, तृतीयः प्रीति सिंह 4थीं एवं अमन सिंह 1ली।

ENVIRONMENT COMPAIGN 2018 AND NO TABACCU DAYENVIRONMENT COMPAIGN 2018 AND NO TABACCU DAY

EJ (6)

अंतर्राष्ट्रीय तम्बाकू निषेध दिवस पर परिचर्चा सम्पन्न
जमनीपाली-31.05.2018-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वाधान में अंतर्राश्ट्रीय तम्बाकू निशेध दिवस पर परिचर्चा का आयोजन डायमण्ड भवन के सभागार जमनीपाली में किया गया। भ्राता राजेन्द्र तिवारी डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लायंस क्लब ने कहा कि नषा एक सामाजिक बुराई है। हम अपनी अंतर्रात्मा में झांक कर देखें और संकल्प लें कि जब हम बदलेंगें तो समाज और संसार स्वतः ही बदल जायेगा। आपने कहा कि लायंस क्लब के चुनाव के बाद जब पदाधिकारी षपथ लेते हैं तो पर्यावरण के संरक्षण का भी संकल्प करते हैं। भ्राता रामकुमार साहू अपर महाप्रबन्धक एन.टी.पी.सी. जमनीपाली ने कहा कि संसार के अधिकांष लोग धूम्रपान की बीमारी से ग्रसित हैं। सिगरेट की डिब्बी पर स्पश्ट चेतावनी लिखी होने के बाद भी लोग इसका सेवन करते हैं। यह मानव की एक प्रकृति बन गई है कि जिसके लिये मना किया जाता है उसका प्रयोग वह ज्यादा करता है। डाॅ.डी.के. जैन आयुर्वेद विशेषज्ञ ने कहा कि यदि हमारे पास बैठकर कोई धूम्रपान करता है तो उसका धुंआ पास बैठे व्यक्ति पर भी बुरा प्रभाव डालता है। मैंने तो कई मरीजों को इसके दुश्परिणाम से कैंसर रोग से भयावह रूप से पीड़ित होते आखों से आंसू बहाते देखा है। पैसा सम्पत्ति सब कुछ होते हुए भी जीवन को नहीं बचा सकते। बहन पीली देवी पार्शद नगर पालिक निगम ने अपनी शुभकामनायें व्यक्त की। डाॅ. के.सी.देबनाथ एम.डी. ने कहा कि तम्बाकू की लत से प्रायः हर घर किसी किसी रूप से प्रभावित है और यह जीवन के अंत तक ले जाता है। डब्ल्यू एच ओ के अनुसार सत्तर लाख लोग प्रतिवर्श इस कारण से मौत के मंुह में जा रहें हैं। इस मौत को हम सब जन जागृति लाकर रोक सकते हैं। सिर्फ दृढ़ संकल्प की आवष्यकता है। मेडिटेषन इसके लिये सर्वोत्तम साधन है। भ्राता राकेष अग्रवाल सेवानिवृत षाखा प्रबंधक पी.एन.बी. ने कहा कि मैंने तो अपनी बैंक षाखा का नियम बनाया था कि कोई भी व्यक्ति तम्बाकू का सेवन करके यदि षाखा में आता है तो उसे पहले पानी से कुल्ला करने का निवेदन करते थे और उसे लोंग इलायची देते थे। इसका कोई बुरा नहीं मानते थे और परिणाम भी अच्छे थे। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने कहा कि तम्बाकू के खेत में तो गधा भी जाना पसन्द नहीं करता। फिर इंसान को इस बुरी आदत तम्बाकू के नशे को त्याग कर देना चाहिए जिसके परिणाम भयावह हैं। सबसे अच्छा नशा नर से नारायण बनने का ईश्वरीय नशा है। बहन कंचन मोर्ये ने मंच का संचालन किया।